प्रमुख कहानियां

कार्यक्षेत्र

अकेला रेंजर

डॉ. इचक अडीज़ेस विकास और समृद्धि के लिए और संबंधित सभी लोगों की देखभाल करने हेतु मिलकर काम करने के लिए एक आश्चर्यजनक समाधान प्रस्तुत करते हैं। नेतृत्व की जटिलताओं से निपटने में, अधिकारी

READ MORE

कार्यक्षेत्र

आपकी नींद कितनी अच्छी है?

पिछले महीने के लेख को जारी रखते हुए स्टैनिस्लस लजूजी हमारी नींद के पैटर्न के बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे हैं और बता रहे हैं कि वास्तव में अच्छी नींद का नित्यक्रम बनाने के लिए क्या

READ MORE

रिश्ते

खूबसूरती से वृद्धावस्था को स्वीकार करना

शांति वेंकट एक शारीरिक चिकित्सक (Physical therapist) हैं और अमेरिका में रहती हैं। यहाँ वे बता रही हैं कि एक देखभालकर्ता के रूप में एक गहन व्यक्तिगत अनुभव ने कैसे उन्हें बुढ़ापे से संबंधित कलं

READ MORE

prevnext

फ़रवरी 2024 संस्करण

क्या हम एक-दूसरे की देखभाल कर रहे हैं?

प्रिय पाठकों,

बड़े अफ़सोस की बात है कि अक्सर हम कठिन या दुःखद परिस्थितियों में ही यह पूछते हैं कि क्या हम एक-दूसरे की देखभाल कर रहे हैं, भले ही वे वैश्विक आपदाएँ ही क्यों न हों, जैसी कि आजकल हम अनुभव कर रहे हैं। केवल तभी हम किसी प्रियजन, लोगों, पर्यावरण और पूरे संसार को इतनी दूर अकेला और निराश छोड़ देने पर चिंतन करते हैं और सोचते हैं कि काश हमने कुछ बेहतर किया होता। 
हार्टफुलनेस पत्रिका के फ़रवरी माह के अंक में हम करुणापूर्ण कार्यवाही के साथ जागरूकता में संतुलन लाने की अपनी यात्रा को जारी रखते हैं ताकि हमें संसार को अधिक शांतिपूर्ण व संगठित बनाने के लिए समाधान मिल सकें। हमारे लेखक समानुभूति व दयालुता की, जीवन में आए बदलावों की, कठिन परिस्थितियों से सीखे गए सबकों की और समाज से मिले ऐसे अनुभवों की कहानियाँ बता रहे हैं जिनसे प्रोत्साहित होकर वे इस बात पर विचार करने लगे कि दूसरों की देखभाल करना कैसा लगता है।

इस माह, दाजी हमें एक बदलाव लाने के लिए आमंत्रित करते हैं और बताते हैं कि किस प्रकार जागरूकता और ऊँचे स्तर की चेतना परस्पर जुड़े हुए हैं। वास्को गैस्पर उपचारात्मक मनस-शरीर व्यायाम के माध्यम से आत्म-स्वीकार्यता से प्यार करने के लिए कहते हैं। लौरा ओटिस देखभाल के नैतिक मूल्य के बारे में तथा नीरजा कैरम दुःख एवं सहायता के बारे में विचार करती हैं। शांति वेंकट हमें अपनी देखभाल बेहतर तरीके से करने की याद दिलाती हैं ताकि हम खूबसूरती से वृद्धावस्था को स्वीकार करें और इचक अडीज़ेस कार्य-जीवन संतुलन प्राप्त करने के लिए एक आश्चर्यजनक समाधान बताते हैं। स्टैनिस्लस लजूजी अच्छी नींद के बारे में, 

श्रीराम राघवेंद्रन अवधान के बारे में और स्नेहल देशपांडे कार्य-जीवन संतुलन के बारे में जानकारी देते हैं। अनन्या पटेल कला के माध्यम से पर्यावरण के मुद्दों को देखती हैं, कैथलीन स्कारबोरो भारत की अपनी अद्भुत पेंटिंग प्रदर्शित करती हैं और सारा बब्बर 

प्रेम के बारे में एक कहानी बताती हैं। 

हम आप सब से आग्रह करते हैं कि आप हमें एक-दूसरे की देखभाल करने के विषय पर अपने विचार यहाँ भेजें - 

contributions@heartfulnessmagazine.com

पढ़ने का आनंद लें,

संपादकगण

प्रेरणा

क्या हम एक-दूसरे की देखभाल कर रहे हैं?

लौरा ओटिस एमोरी यूनिवर्सिटी, अटलांटा, जॉर्जिया में अंग्रेज़ी की प्रोफ़ेसर हैं। वे अपने कार्य में वैज्ञानिक और साहित्यिक विचारधारा को एकीकृत करती हैं औ ...,

Read More

अपनी देखभाल

मानव उत्कर्ष के लिए अभ्यास

दो भागों की इस श्रृंखला में, वास्को गैस्पर मानव उत्कर्ष के लिए विभिन्न पद्धतियाँ व दृष्टिकोण बता रहे हैं जिनसे हमें अच्छाई और करुणा के प्रति अपनी क्षम ...,

Read More

बचपन

प्रेम की शक्ति

सारा बब्बर सर्विस स्पेस की ऑड्री लिन की एक कहानी बता रही हैं। वे हमारे समक्ष कुछ विचारशील प्रश्न और एक महीने तक करने के लिए एक प्रयोग प्रस्तुत कर रही ...,

Read More

A WORD, A THOUGHT, A QUESTION
awtq-text

Simple practical weekly inspirations to improve various aspects of your thought patterns, emotions, habits and lifestyle.

Word thought question
SUBSCRIPTIONS
HFNmag-December2022-Cover

Heartfulness Magazine

Available in Print & Digital versions

अनुशंसित लेख

कार्यक्षेत्रआपकी नींद कितनी अच्छी है?

पिछले महीने के लेख को जारी रखते हुए स्टैनिस्लस लजूजी हमारी नींद के पैटर्न के बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे हैं और बता रहे हैं कि वास्तव में अच्छी नींद का नित्यक्रम बनाने के लिए क्या आवश्यक है।यदि आप ...

readmore
कार्यक्षेत्रअकेला रेंजर

डॉ. इचक अडीज़ेस विकास और समृद्धि के लिए और संबंधित सभी लोगों की देखभाल करने हेतु मिलकर काम करने के लिए एक आश्चर्यजनक समाधान प्रस्तुत करते हैं।नेतृत्व की जटिलताओं से निपटने में, अधिकारी को अक्सर ‘अत्या ...

readmore
प्रेरणाउच्चतर चेतना का स्वरूप

प्रिय पिताजी,चेतना की उच्चतर अवस्थाओं का अनुभव करने का क्या अर्थ है?प्रिय सहज और मार्ग,मैंने अपने पिछले पत्र में बताया था कि चेतना जागरूकता से संबंधित है बल्कि यह जागरूकता का स्तर है जिसका अर्थ जागरूक ...

readmore